शनि नौकरी करता है !

शनि ग्रह समूह का नौकर माना जाता है,इसे नीच जाति का और नीच प्रकृति का माना गया है,साथ ही इसे छोटी जाति का नेता भी कहा जाता है,जो काम इसके हिस्से में आये है वे सब कठिन और सीमा में रह कर ही करने होते है,साथ ही जो काम के बदले में भुगतान दिया जाता है वह काम के मुकाबले में बहुत ही कम होता है,यह काम करने वाले लेबर का नेता बन जाता है,सरकारी नौकरियों के लिये लगातार कोशिश करता रहता है,जहां पर और जिस फ़ैक्टरी में लेबर काम करते है,वही इसकी उपस्थिति मिल जाती है,जो रोजाना नियम से काम करने वाले है,जो इन्जीनियर है,जमीन जायदाद के काम को करना जानते है,जिन्हे कठिन मेहनत करने के बाद किसी वस्तु की खोज करनी होती है,जो केमिकल और भूगर्भीय पदार्थों से कुछ बनाना जानते है,जो लेबरों को डील करते है,जो आलू शकरकंदी और जमीन के अन्दर होने वाले पदार्थो की खरीद बेच और पैदा करने का काम करते है,नौकरों को सप्लाई करते है,बेकार के खाने को जानवरों को खिलाने का काम करते है,पत्थर और लकडी के काम को करते है,कसाईगीरी का काम करते है,और जो भी जमीन के नीचे के पदार्थ निकलते है,उनके लिये काम करते है,यह कुन्डली में जब मजबूत होता है,तो व्यक्ति के अन्दर सर्वोच्च इन्सानियत को भर देता है,बहुत सुन्दर आत्मा का विकास कर देता है,लोगों से जुडे रहने का बल देता है,अधिक से अधिक सोच कर काम करने की शक्ति देता है,अपनी सीमाओ के अन्दर रहने और समाज के प्रति काम करने का बल देता है,अपने कर्त्वयों के प्रति जिम्मेदारी निभाने का बल देता है,भरोसे का आदमी बना देता है,ईमानदारी का रास्ता दिखाता है,समझने का बल देता है,अधिक समय तक टिके रहने का उपाय देता है,सम्पत्ति और जागीर का संचालन देता है,नियम के विपरीत काम नही करने देता है,जिम्मेदारी सिखा देता है,लोगों से सम्पर्क का तरीका और समझ देता है,जो है उसी का भान करवाता है,चकाचौंध में नही जाने देता है,अधिक समय तक बने रहने की ताकत देता है,और जो भी समाज और देश के लिये संवैधानिक होता है,उसी तरफ़ जाने का मार्ग देता है,शनि तीखा और ठंडा तथा रूखा ग्रह है,चिपकने की आदत रखता है,जल्दी से गुस्सा भी हो जाता है,हिदायत भी दे देता है,आसुरी प्रवृत्ति को भी दिखा देता है,इसका स्वभाव कसाई जैसा है,जिसे मारना है तो मारना है,अपनी फ़ायदे वाली बात को पहले सोचेगा,अपना काम बनता,भाड में जाये जनता वाली कहावर्त को ध्यान में रखता है,शनि का ह्रदय बहुत ही मजबूत होता है,इसे पिघलना नही आता है,शनि का शरीर दुबला पतला और रूखा होता है,काला और लम्बाई में बडा होता है,देश काल और परिस्थिति के अनुसार ठिगना भी होता है,कत्थई रंग और छोटी छोटी आंखे जो गड्ढे में पडी दिखाई देती है.दांतो के ऊपर ढेरों मैल लगा होता है,दांत भी टेढे मेढे होते है,आंखे झपकाने की आदत होती है,लम्बा मुंह और लम्बे हाथ होते हैं,आलसी और सुन कर भी न सुनने की आदत वाला होता है,चेहरे पर बालॊ की अधिकता और सिर पर खडे और मोटे बालों का जमावडा होता है,यह प्रवृत्ति जब मिलती है जब शनि कुन्डली में लगन में होता है,इसका रंग काला और गहरा कत्थई तथा समुद्री नीला रंग इसकी पसंद होती है.

Unless otherwise stated, the content of this page is licensed under Creative Commons Attribution-ShareAlike 3.0 License