नबम्बर का रहस्य

वृश्चिक राशि जल त्रैविध्य का दूसरा घर है,जिसका स्वामी मंगल नकारात्मक है,यह राशि इक्कीस अक्टूबर को चालू होती है,और आरम्भ के साथ दिनो तक पिछली तुला राशि की छाया के कारण उसकी पूरी शक्ति प्रकट नही होती है,२८ अक्टूबर के बाद यह अपने पूरे प्रभाव में आती है यह स्थिति २० नबम्बर तक रहती है उसके बाद सात दिनो तक आने वाली राशि धनु की छाया के कारण उसका प्रभाव क्षीण होने लगता है.

वृश्चिक राशि के दो चिन्ह है,एक बिच्छू और दूसरा गरुण,वर्ष के इस भाग में यानी २१ अक्तूबर से २० नबम्बर तक और उसके बाद जन्मे व्यक्ति या तो बहुत ही अच्छे होते है,या बहुत ही खराब,वे या तो बिच्छू के गुण लेते है,या गरुण के.इक्कीस वर्ष की उम्र तक प्राय: वे बहुत पवित्र सच्चरित्र और धर्म भीरू होते है,पर यदि उनकी कामुक प्रवृत्ति उदय हो जाये तो वे उल्टी दिशा में चले जाते है,फ़िर भी इस राशि में कुछ महान व्यक्तियों ने जन्म लिया है,सभी बहुत भावुक होते है,जो उनकी प्रकृति का मूल स्वर है.

वर्ष के इस भाग में जन्मे व्यक्तियों में चुम्बकीय आकर्षण होता है,वे कुशल डाक्टर,सर्जन,धर्मोपदेशक,और बक्ता बनते है,सार्वजनिक जीवन में श्रोता समूह पर उनका इतना प्रभाव पडता है,कि उन्हे जिस दिशा वे चाहें ले जा सकते है,लिखने बोलने और भाषा पर उनका अच्छा अधिकार होता है और उनकी अभिव्यक्ति का प्रभाव काफ़ी नाटकीय होता है.उनका दोष यही है कि जिसके सम्पर्क में आते है,उसके अनुसार अपने को ढाल लेते है,और इस प्रकार से सामने वाले के दोष भी अपने में धाल लेते है,यदि वे इस राशि के ऊंचे धरातल पर है,तो मानवतावादी,बेहद उदार और त्याग करने वाले होते है,आपातकाल में वे शान्त रहते है,और जो भी करना उसे द्र्ढता पूर्वक करते है,आपत्ति के समय उनपर हमेशा भरोसा किया जा सकता है,व्यापार राजनीति,साहित्य जो भी उनका क्षेत्र जो उनके विचार मौलिक है,और प्राय: उनमें वे सफ़ल होते है,अकसर वे झूठी अफ़वाहों से वे बदनाम किये जाते है,जीवन संग्राम में वे भाग्य की संतान कहे जाते है.वे शरीर की लडाई कम और बौद्धिक लडाई अधिक लडते है,यदि उन्हे किसी तरह से सामने लडाई झगडे में जाना पडे, तो वे अच्छा संगठन कर सकते है,लेकिन प्रक्रुति से वे रक्त पात से नफ़रत करते है,वे कुशल राजनायक होते है,और सुलह समझौता करवाने में माहिर माने जाते है,दवाइयों का वे अच्छा व्यवसाय कर सकते है,और उनको पहिचान होती है कि सामने वाले पर किस दवाई का अच्छा असर पडेगा.

जब वे बिच्छू के असर पर जाते है,तो लिखने बोलने आदि में तो वे बिच्छू की तरह तीखा डंक मारते है,पर जरा सा खेद जाहिर कर दिया जाये तो पिघल भी जाते है ,और कितनी ही बडी गल्ती को क्षमा भी कर सकते है,इस राशि के यह दोनो चिन्ह सबसे अच्छे और सबसे बुरे माने जाते है,इस राशि के लोगों के जीवन भी दोहरे होते है,दो चेहरे इनके हमेशा अपना असर दिया करते है,एक चेहरा संसार के लिये माना जाता है,और दूसरा अपने खुद के लिये होता है.

निचले स्तर पर होते हुये दोहरे जीवन की यह वृत्ति अधिक विकसित होती देखी गयी है,ऐसे मामले में सुखी परिवारिक जीवन देखे गये है,प्रकट रूप से पति या पत्नी के साथ बच्चों को बेहद प्रेम करने वाले होते है,और दूसरी तरफ़ एक और गृहस्थी चलाते देखे गये है.ऊंचे स्तर पर यह विचित्र स्थिति उनको मानसिक रूप से प्रभावित करती है,दो व्यापार एक साथ चलाते है और दोनो के अन्दर सफ़ल होते देखे गये है.

कभी कभी वे मंत्र तंत्र में दिलचस्पी लेने वाले होते है,वे अन्तर्ग्यान का विकास करते है,और अपने ज्ञान का विकास करते है,और अकसर लेखक चित्रकार कवि या संगीतकार के रूप में प्रसिद्धि पाते है,स्वभाव से वे दार्शनिक होते है,और प्रकृति के जानकार कहे जाते है,दूसरों के चरित्र का अच्छा विश्लेषण कर सकते है,जो उनको जानते है,वे अक्सर उनका आदर करते है,और उनसे स्नेह करते है,पर इस राशि में जन्मे कम ही ऐसे व्यक्ति हों जो किसी प्रकार की बदनामी और मिथ्यारोप से बचें,इस राशि के अन्दर जन्मे लोगों की आय के प्राय: दो साधन देखे गये है.

जीवन के आरम्भिक वर्षों के अन्दर उनके पास कष्टों की अधिकता होती है,लेकिन वे ही कष्ट उनकी मस्तिक की जडता को खत्म करने के लिये सहायक भी बनते है,यही कष्ट उनकी इच्छाशक्ति को और मजबूत बनाने के लिये उपयुक्त माने जाते है,उनकी आकांक्षायें भी बहुत मजबूत बन जाती है,अंत में ऐसा समय आ जाता है,जब उनके सारे प्रयास सफ़ल हो जाते है,और उन्हे नाम और यश मिलता है.

वृश्चिक राशि में जन्मे लोग बहुत परिश्रम से अपना काम करते है,अपने को किसी प्रकार से जरा सा भी माफ़ नही करते,उनका संकल्प उन्हे मानो चाबुक की तरह मार मार कर और ज्यादा काम करने पर बाध्य करता है,उनमें पहल करने की योग्यता होती है,और वे जो भी काम करते है,वह चतुरता से करते है.वे कुशल सरकारी अधिकारी बनने की योग्यता रखते है,वे राजनीतिक मामलों में या गुप्त दूत के कार्य को कर सकते है,किसी भी सरकारी या निजी कम्पनी को डूबने से बचा सकते है,कौन उनके कार्यस्थल में चोरी कर रहा है,उनको पता होता है,गुप्तचर या पुलिस अधिकारी के रूप में भी काम कर सकते है,क्यों कि अपराध का पता करने में वे माहिर होते है.और उनकी बुद्धि बहुत अच्छा काम करती है.वृश्चिक राशि में जन्मे लोग कुशल वैज्ञानिक रसायन विद होते है,खासकर तरल पदार्थों से संबन्धित जांच परख करने का उन्हे अच्छा ज्ञान होता है,वे रहस्य मय काम भी पसंद करते है,जैसे किसी छिपी विद्या या छिपे तंत्र का ज्ञान करना,जितने भी गूढ विषय होते है,सभी में जाने की उनकी अधिक इच्छा होती है,खनिजों का पता लगा सकने में भी वे चतुर कहे जा सकते है,और इन कामों के अन्दर वे बडे से बडा खतरा उठाने की क्षमता रखते है.

उच्च धरातल के लोग रहस्यवाद और आध्यात्मिक शोध कार्य आदि में रुचि लेते है,और निम्न धरातल के लोगों का झुकाव अपराधी कामों की तरफ़ अधिक झुकाव देखा जाता है.उच्च वृश्चिक राशि के लोग अच्छा विवाह करते है,अधिकतर उनको विवाह के बाद शादी से उनको धन प्राप्त होता है,अगर ऐसा नही हो पाता है,तो उनका सम्बन्ध किसी ऐसे स्त्री या पुरुष से होगा जो उच्च बौद्धिक स्तर से नाम कमाने में माहिर माना जायेगा.

आरम्भिक वर्षों में वृश्चिक राशि के लोग अच्छे स्वास्थ्य के मालिक नही होते है,उनको बचपन में बीमारिया औसत से अधिक होती है,उनकी बीमारियों का सम्बन्ध अधिकतर आंतडियों से होता है,उनको फ़िस्टुला,मूत्राशय की सूजन,जननेन्द्रियों को खतरा और शरीर की ग्रंथियों के अन्दर तकलीफ़ हो सकती है.जीवन में दुर्घटना से बच नही सकते है,हाथों के अन्दर चोट अवश्य लगती है,उनके फ़ेफ़डे कमजोर होते है,और श्वास नली में कोई न कोई तकलीफ़ जरूर पनप जाती है.लेकिन इक्कीस साल की उम्र के बाद उनके अन्दर बीमारी से लडने की असीम शक्ति पैदा हो जाती है.

इस राशि में जन्मे लोगों की आर्थिक स्थिति में अनेक उतार चढाव आते है,वे लोगों का विश्वास जल्दी से कर लेते है,आशावादी भी बहुत होते है,बातों बातों में उन्हे किसी भी स्कीम में फ़ंसाया जा सकता है,जिसका कोई ठोस आधार नही होता उनकी राशि का स्वभाव जल की तरह से है,जल अनिश्चित और परिवर्तन का रूप है,यही रूप इस राशि वालों के लिये माना जाता है,इसी कारण से वे अधिक फ़िजूलखर्ची होते है,सहायता के अनुरोध की वे उपेक्षा नही कर सकते है,खासकर यदि यह अनुरोध स्त्री को पुरुष करे या या पुरुष को स्त्री करे.पैसे मानो उनकी जेब को जलाते है,जब तक खर्च नही हो जायें उनको चैन ही नही आता है,उनकी योग्यता के अनुसार वे चाहे कितना ही कमा लें लेकिन वे उस पैसा को संभाल कर नही रख पाते है.अपनी परिस्थितियों के अनुसार उनको घूमना भी पसंद है,और किसी भी स्थान पर जाते वक्त वे अपने को उसी प्रकार से ढालने की योग्यता रखते है.
किसी भी योगदान के लिये सम्पर्क करें moc.liamg|airuadahbortsa#moc.liamg|airuadahbortsa

Unless otherwise stated, the content of this page is licensed under Creative Commons Attribution-ShareAlike 3.0 License