मेष राशि
aries.gif

मेष राशि

आपका स्वभाव जो करना है वही कहना है,साथ ही जो भी हो वह शरीर की शक्ति से ही करना है किसी अन्य सहारे की जरूरत के लिये तभी बाट जोहनी होती है जब किसी बात को बेलेन्स मे लाना होता है। आपके दिमाग में हमेशा संसार के हर क्षेत्र के लिये तकनीक घूमा करती है,यानी किसी भी वस्तु कार्य सेवा नाम जीवित मृत सभी के लिये कोई न कोई तकनीक विद्यमान ही रहती है। जो भी कार्य करना है वह शरीर से ही करना है बिना शरीर की शक्ति के कोई कार्य समझ में नही आता है। शारीरिक बल के लिये जो भी कार्य माने जाते है वही अच्छे लगते है और जल्दी हो भी जाते है,इस राशि का कारक मंगल है कुंडली में जिस स्थान का मंगल प्रभावी होता है उसी भाव के काम बल से निपटा लिये जाते है। जैसे लगन में ही मंगल है तो शरीर से सम्बन्धित जितने भी काम बडे आराम से निपटा लिये जाते है,इन कार्यों में अपने शारीरिक बल से खेल कूद बजन उठाने वाले काम भागने दौडने वाले काम,चिकित्सा वाले काम और मंगल जब कमजोर होता है तो कुली या भार वाहन वाले काम मजदूरी वाले काम करने पडते है साथ ही मंगल अगर मजबूत होता है तो रक्षा सेना वाले काम पुलिस मिलट्री वाले काम लोगों के जान माल की सुरक्षा वाले काम भी करने को मिलते है। आदत के अनुसार जो भी शरीर का बल प्रयोग में लाया जाता है वह धन के लिये ही प्रयोग में लाया जाता है अक्सर दोहरे जीवन साथी के कारण जीवन में मिलते है,बोलने चालने में और समाज दुनिया में दिखावे के काम में शरीर का प्रदर्शन ही किया जाता है। अक्सर इस राशि वाले जातक ही अपने अंग प्रदर्शन के लिये जाने जाते है,और अंग प्रदर्शन भी ऊपरी भाग के लिये ही माना जाता है। यह भावनात्मक प्रभाव से ग्रस्त होते है जिसके साथ मन लगा लिया तो तब तक लगाये रहते है जब तक कि जहां पर मन लगाया गया है वहां से सिर कटाने वाली बात नही मिले इसके अलावा उससे ही अधिक मन को लगाते है जो ममत्व वाली बाते करता है जीवन की यात्रा को आगे बढाने या आने वाले सुख दुख में साथ चलने की बात करता है। शिक्षा के मामले में इसी राशि के जातक राजनीतिक शिक्षा में सफ़ल होते देखे गये है और अधिक तर सरकारी काम काज में अपने को आगे बढाने वाले मिलते है। जो भी बीमारी मिलती है वे स्नायु रोग की अधिक मिलती है जैसे नसो में पानी भर जाना पैरों की पिंडलियों में दर्द रहना,सिर की चोटों में और माता के छोटे भाई बहिनो से तथा पिता के खानदान से अक्सर किसी न किसी बात में दुश्मनी का बना रहना भी पाया जाता है। अक्सर पिता के लिये और पिता परिवार के लिये तथा माता के कार्यों में और माता के छोटे भाई बहिनो के लिये तथा विवाह के बाद पति या पत्नी के इलाज उसके लिये आराम के साधन जुटाने यात्रा आदि में खर्च करने के कारण कर्जा करना पडता है। नौकरी करने के लिये भी यही कारक सामने आते है। नौकरी में भी धन की सुरक्षा करना धन के प्रति कार्य करना ब्रोकर वाले काम धन से धन को कमाने वाले काम करने का अवसर मिलता है। मेष राशि वालो की शादी अक्सर बनिया तबियत के लोगों से होती है जो बात को बेलेन्स करने के बाद बोलने के लिये माने जाते है किसी भी कार्य को बेलेन्स बनाकर चलने वाले होते है,और अपने दोहरे स्वभाव के लिये जाने जाते है। मेष राशि के जीवन साथी के द्वारा इस राशि वालों को बेलेन्स से ही काम में लेने की आदत होती है,जब मेष राशि वाले मूड आजाने पर खर्च करते है तो इस राशि के जीवन साथी बेलेन्स बनाकर खर्च करने वाले होते है। जातक के लिये शरीर का बल ही गौढ होता है जबकि जीवन साथी के अनुसार धन ही गौढ माना जाता है। मेष राशि वाले जातक अक्सर जोखिम के कामो को करने के लिये आगे बढ जाते है किसी भी प्रकार का कार्य जो जोखिम से पूर्ण होता है तुरत करने के लिये चल देते है,यह अपनी शरीर की शक्ति के अनुसार लडाई झगडे और मारकाट वाले कामों में आगे बढने वाले होते है,इनके द्वारा किसी भी बात को बुरा लगने के कारण यह अपमान भी बहुत जल्दी कर देते है और सामने वाला अपमान के कारण कोई गलत बात कहता है तो इस राशि वाले अपने शरीर का बल भी बहुत जल्दी प्रयोग में ले लेते है। अक्सर व्यवसायी लोग इन्हे अपनी सामने की सुरक्षा में प्रयोग में लाते है,और जो भी काम उन्हे करना होता है इसके लिये वे धन या अपनी व्यवसायी योग्यता से इस राशि वालों को प्रयोग करते है। अक्सर इन्हे व्यवसायी लोगों की सुरक्षा में अपने को बलि का बकरा भी बनना पडता है। मेष राशि वाले धर्म और मर्यादा को अपने पूर्वजों के अनुसार ही मानने वाले होते है जब वे किसी प्रकार के न्याय वाले क्षेत्र में जाते है तो उच्च पदवी वाले कारण ही उनके सामने होते है विदेश यात्रा के समय भी इस प्रकार के जातक अपने शरीर के बल के अनुसार और अपने ही शरीर से अपनी उन्नति की चाहत लेकर विदेश जाने के लिये अपनी योग्यता को प्रकट करते हुये माने जाते है। ऊंची शिक्षा के लिये भी इस प्रकार के जातक न्याय यात्रा वाले काम लोगों की भलाई करने वाले काम डाक्टरी की ऊंची पढाई करने के बाद डाक्टरी के ऊंचे पद वाले काम तकनीकी क्षेत्र से विकास के काम और अपने बल के अनुसार वही काम उन्हे अच्छे लगते है जो उन्हे समाज और परिवार में नाम देने वाले होते है। मेष राशि के जातकों का स्वभाव शुरु किये जाने वाले कामो को पहली बार खराब करना माना जाता है वे करके सीखने के कारक होते है पढ कर सीखना उनकी बुद्धि के अनुसार नही माना जाता है प्रेक्टिकल रूप में इस राशि के लोग जितना सीख सकते है उतना पढ कर सीखना नही होता है। अपने पहले कार्य नौकरी या जीवन में उन्नति के लिये शुरु किये गये कार्यों में पहले कार्य को खराब कर देते है या पहले कार्य को बिना किसी हील हुज्जत के छोड देते है,दूसरी बार के कार्य वे बडी आसानी से कर सकते है। मेष राशि के जातक मित्रों की सहायता भी खूब करते देखे गये है इस राशि के मित्र कार्य के रूप में सहायता करने वाले और वक्त पर काम आने वाले लोग होते है और इस राशि के जातकों का खर्चा अपने मित्रों के लिये अधिक माना जाता है। पुत्र या पुत्री की शादी विवाह में इनके मित्र ही सहायता करते है,साथ ही अपनी कमाई को भावनात्मक रूप में जोखिम पडने पर अपने मित्रों के लिये बहाने में भी पीछे नही रहते है। इनके जो भी मित्र होते है वे दोहरे स्वभाव के होते है,एक तो वे सामने से काम करने वाले और पीछे से उसी काम का उल्टा करने वाले माने जाते है।

money-178.gif

मेष राशि और धन कमाने के साधन

Unless otherwise stated, the content of this page is licensed under Creative Commons Attribution-ShareAlike 3.0 License