Gods

अलग अलग राशियों के और अलग अलग नक्षत्रों के देवताओं के अलग अलग नाम बताये जाते है,राशियों के अनुसार जो देवता माने जाते है वे इस प्रकार से है:-

  • मेष राशि के देवता हनुमान जी है जिनके अन्दर शक्ति का बल है,लेकिन मानसिक शक्ति की बात को प्रत्यक्ष रूप में समझने के लिये बिना याद दिलाये इस शक्ति का विकास सम्भव नही है.
  • वृष राशि के देवता कुबेर जी है जो धन और धान्य के साथ भौतिक सुखों को सामने दिखाते है उनके लिये मानसिक पूजा पाठ और व्रत आदि काम नही करते है उनके लिये सम्मुख पूजा पाठ और भोजन दान आदि का महत्व समझा जाता है.
  • मिथुन राशि के देवता को गन्धर्व है,जिन्हे भावनात्मक रूप से प्रदर्शित करने के लिये माना जाता है उनके लिये अभ्यास और शब्द मंथन के द्वारा मंत्र जाप के द्वारा मनाया जाता है,अच्छे के साथ बुरा और बुरे के साथ अच्छा बर्ताव करना गन्धर्व देवताओं की शिफ़्त होती है.
  • कर्क राशि के देवता शिवजी है,जो भावनात्मक रूप से पूजा को ग्रहण करते है,उनके लिये भौतिक रूप से केवल पानी ही काफ़ी है,अन्य वस्तुओं की अपेक्षा वे नही करते है.
  • सिंह राशि के देवता इन्द्र है वे राज्य से सम्बन्ध रखते है और घमण्ड की शक्ति उनके पास होती है अपने समय में वे सभी को उजाला देते है और दोस्त दुश्मन सभी से अपने अपने अनुसार निपटने की बात को करते है.
  • कन्या राशि के देवता को नपुंसक व्यक्तित्व वाले देवता होते है वे कह तो सभी के लिये देते है लेकिन करने में उन्हे दिक्कत आती है वाणी के प्रदाता और वाणी से ही वह सभी तरह के प्रमाण देने के लिये माने जाते है.
Unless otherwise stated, the content of this page is licensed under Creative Commons Attribution-ShareAlike 3.0 License