Recent Forum Posts
From categories:
page 1123...next »

my date of birth 26 july 1986 & time of birth 10.15 am. please marriage time will be possible too.

by shikha (guest), 22 Nov 2011 06:25

pandit ji mera birth date 11/09/1989 hai aur time 12.29pm hai.
aap mujhe batayiye ki mera futur kaisa hai aur carrer kaisa hai.
shadi kab tak ho sakti hai.

by Sita (guest), 14 Oct 2011 17:33

pandit ji mera birth date 11/09/1989 hai aur time 12.29 hai.
aap mujhe batayiye ki mera futur kaisa hai aur carrer kaisa hai.
shadi kab tak ho sakti hai.

by Sita (guest), 14 Oct 2011 17:31

प्रेम जी
आपकी कुंडली वृष लगन की है आपकी राशि मीन है,साथ ही आपके कार्य के मालिक शनि है,सप्तम और बारहवे भाव के मालिक मंगल का धर्म स्थान तथा भाग्य स्थान में होना और सप्तम के राहु का मंगल को बल देना,लगन के केतु का भी मंगल को बल देना,आपको सेना में जानेके लिये प्रोत्साहित कर रहा है,मंगल अपनी उच्च राशि मकर में है,लेकिन वृश्चिक के राहु का असर मंगल के लिये दिक्कत देने वाला माना जा सकता है.

सेना में जाने की प्रेरणा कैसे मिली ?

आपके दक्षिण पश्चिम में किसी प्रकार से शहीद की प्रतिमा या किसी शहीद स्मारक या कोई शहीद दफ़न हुआ माना जा सकता है,इस स्मारक या प्रतिमा के द्वारा आपको सेना में जाने की प्रेरणा मिली है,जो आपके जीवन के आठवें साल से मिलनी मानी जाती है.

सेना में आपकी औकात नही है

शनि के द्वारा राज्य भाव में अपना स्थान बनाने से तथा बुध वक्री से युति लेने से आपकी शिक्षा और कार्य यानी सेना सम्बन्धी ट्रेनिन्ग में अवरोध आने की बात मिलती है जिससे किये जाने वाले कार्यों का ह्रास होना मिलता है,आपको व्यापारिक तथा सरकारी धन सम्बन्धी कार्यों की शिक्षा को पूर्ण करना चाहिये और अपने कैरियर को धन सम्बन्धी क्षेत्रों मे लेजाना चाहिये.

प्रेम कुमार जी की सिंह लगन की कुंडली है और सूर्य इसके स्वामी है,सूर्य का स्थान नवें भाव में भाग्य स्थान मे है,सूर्य का साथ कार्येश और तृतीयेश शुक्र दे रहे है,लाभेश और धनेश बुध वक्री है,घर और भाग्य के मालिक मंगल भी वक्री है.षष्ठेश और सप्तमेश शनि भी वक्री मंगल के साथ वक्री है.बारहवे भाव का मालिक चन्द्रमा लाभ भाव मे है और बुद्धि तथा गूढ ज्ञान के मालिक बुद्धि भाव में बैठ कर वक्री है.

  • वक्री मंगल हिम्मत में कमी देता है लेकिन तकनीकी बुद्धि को आगे रखता है,उत्साह में कमी करता है स्त्री पुरुष आन्तरिक सम्बन्धो में कमजोरी देता है.
  • शनि वक्री होने पर अपने अधिकार के लिये उतावला पन देता है,किसी भी काम को करने के बाद जल्दी ही कार्य फ़ल प्राप्त करने की आदत से कार्य करवाने वाले अपनी औकात को देखकर ही कार्य के फ़ल को देते है और अधिकतर बडे कार्यों मे इस प्रकार के जातक के साथ अन्याय ही होता है,जो कार्य अधिक समय तक किया जायेगा और उसका कार्य फ़ल जो अधिक पूंजी में मिलेगा वह इस प्रकार के जातकों के लिये नही मिल पाता है जल्दबाजी की आदत से केवल रहना खाना और प्रारम्भिक खर्चे ही पूरे हो पाते है इसलिये जायदाद आदि का लेना खरीदना बनाना आदि दूर की बाते हो जाती है,इसके अलावा अगर किसी कारण से जायदाद ले ली जाये और उस जायदाद को सम्भालने की हिम्मत नही होने के कारन जल्दी ही उसका निस्तारण करना पडता है.कार्यों में बदलाव भी होता रहता है.एक नियम यह भी है कि अगर वक्री ग्रह उच्च राशि में है तो बजाय उच्च फ़ल देने के नीच फ़ल देने लगता है.
  • बुध ग्रह के वक्री होने के कारण शिक्षा भी अधूरी रह जाती है जिस प्रकार से प्रारम्भ में शिक्षा का रूप होता है अगर वह पूरा हो जाये तो जीवन के सभी आयाम पूरे होने लगते है,लेकिन बुध के वक्री होने के कारण ली जाने वाली शिक्षाओं के अन्दर अवरोध पैदा हो जाता है.
  • गुरु के वक्री होने से या तो पुत्र सन्तान मिलती नही है और सन्तान मिलती भी है तो कष्ट में रहती है.
  • कार्य भाव में राहु के होने से और राहु के धन की राशि में होने से कभी तो लगता है बहुत धन कमाने वाला कार्य किये जा रहे है और कभी लम्बे समय तक बैठे रहने और कार्य के लिये तरसना पडता है.

उपाय

  • घर के मालिक मंगल वक्री के उपाय किये जायें रोजाना शहद को किसी न किसी रूप में प्रयोग किया जाये,हनुमान भक्ति भी हिम्मत को बढाने वाली होती है,मांस आदि का भोजन करने पर मंगल वक्री के समय इन्फ़ेक्सन की बीमारी देता है और शराब का सेवन शनि के वक्री होने से काम शक्ति को क्षीण करता है तथा जीवन साथी को अनैतिक सम्बन्धो की तरफ़ ले जाता है.कितना ही कमाकर घर लाया जाये लेकिन जीवन साथी के खर्चे अपनी शारीरिक पूर्ति के लिये इतने बढ जाते है कि वह बचत कर ही नही पाती है,इसलिये भी किराये के घर में ही रहने के मजबूर होना पडता है.शुक्र मंगल का परिवर्तन योग भी दिमाग को अनैतिक सम्बन्धो की तरफ़ ले जाने के लिये माना जाता है.
  • केतु के घर के भाव में बैठने के कारण भी माता के नाम से या माता के द्वारा जमीन का एक टुकडा अनुपजाऊ रूप से पडा होता है जो बाद में किसी न किसी बलवान व्यक्ति के द्वारा कब्जे में ले लिया जाता है.
  • शनि वक्री के उपाय के लिये नीलम का पहिना भी सही रहता है,जिससे बार बार बदलने वाले दिमाग का स्थिर होना माना जाता है लेकिन शनि के शुक्र की राशि में होने के कारण और मंगल के वक्री होने के कारण सफ़ेद नीलम को ही महत्व दिया जाना उचित माना जाता है.
  • बुध वक्री के लिये उपाय के रूप में दुर्गा उपासना उत्तम है.
  • इन उपायों को करने के बाद आने वाले जनवरी के महिने में घर बनाने के योग शुरु हो सकते है लेकिन अपने नाम से घर नही बनवायें अपने जीवन साथी के नाम से घर बनवाना या खरीदना ठीक रहेगा.

name:premkumar
dob:5/5/1984
time :2:00pm
place:chapra(bihar)
education:o level
guuru ji pranam

kya me apni zingi me kabhi apni khud ki kamai se aapna ghar or jameen bana paaunga ya nahi,mai ek computer instution chalata hu plz reply me

by prem kumar byahut (guest), 10 Aug 2011 18:02

नाम : प्रेम
जन्म तिथि : १३-०२-१९९४
जन्म स्थान : नाहन जिला सिरमौर (हिमाचल प्रदेश)
जन्म समय : १२:१० दोपहर
प्रश्न : आदरणीय गुरु जी
में १०+२ कक्षा में पढ़ रहा हूँ मुझे भविष्य में कौन सी लाइन में जाना चाहिए ? क्या में सेना में एन डी० ए० में जा सकता हूँ या फिर मेरे लिए इंजिनीअरिंग ठीक रहेगी

Future career by loveprdploveprdp, 31 May 2011 09:46

pushkar you not replied about your promotion that you find before May 2011 ?

namaskar guruji,
mera bhanja jiska naam Jatin hai, date of birth : 21 sept 1999, time: 5:30 am. hai, janam sthan New Delhi hai, wo bhaut gusse main raht hai, kisi ka kahna nahin manta, padai main uska dil nahin lugta, meri bhanan bhaut pareshan rahti hai, uske liye koi upaye ya daan bataiye jisse uska beta sudhar jaye. koi galti ho gayi ho to maaf keejiyega.
Dhanyavad

by Deepak (guest), 18 Apr 2011 07:01

date of Birth 26-09-1976
Place of birth , Bhandara , (Maharastra State )
time -11.55 night.
Q. Mera Life babot jada disturb hai , diviorce case chal raha 2 sal ho gaya , result ka kuch pata nahi , na aage wali party maintance de rahi hai na kuch .mai mere bache ko lekar mummy , bhai ke pass rahati hu. sir muze apni kundli ke bare mein janna hai ki meri kundli main or kya.

by arti (guest), 10 Dec 2010 09:43

Birth date 25-09-1972
Birth time 03:00 am
Bihth palase ujjain
year 2011 varshaful

by ASHOK PAMNANI (guest), 09 Dec 2010 13:44

Name:- Aapka fan
DOB-> 10-Sep-1976
Time of Birth:- 00:30 hrs
Place of birth:- Jaipur , Rajasthan

Please let me know about my finacial . I am getting huge losses in share market

by Aapka fan (guest), 03 Dec 2010 12:12

mera janam date 19-04-1962 moring 4-15AM Ratangarh Rajasthan. mera kam tekh nahi chal raha hai. meri ladki ko nokri kab melagi

by RAMESH SATTASARIYA (guest), 12 Nov 2010 04:45

date of birth 02/01/1984
time of birth 04:35 am
place chandigarh
ques- mere carrier ke bare main btado aur jise main like krti hoon kya woh meri lyf main dubara aayega kya?maine uska hr mushkil main sath diya pr woh ab mujhse naraz hai kya/woh mujhse baat krega kya

by navneet kaur (guest), 09 Nov 2010 07:17

Hello Sir,
My Name is Anuj Kumar i am a Married Man(jan ,2008) My Details are
26/05/1977, 06:35 PM, Chapra(Bihar-India)
My Wife Details:
Name :Jyoti Versha
15/01/1982,02:45 PM,Azamgarh(UP-India)

Why We always in trouble , Money wise , status wise. When We Get Ride of these problems.When i will go Abroad.
and When My wife Get a job and which Field.

by Anuj Kumar (guest), 25 Oct 2010 09:21

birth date 25/11/1981
time 04:15am
country india
place ulhasnagar(maharashtra)

sir mainbe aapko pahl;e bhi mail kiya par no reply:
sir mujhe kiss field main jaana chahiye aur apna makan kab tak banega
main readymade garment main hun sahi hai ya nahi plz sir bataye
kuch upaay bhi baataye plz sir aur kaunsa ratan pahnu plz sir main aapke mail ka intzaar karunga.

by sanjay (guest), 19 Oct 2010 10:27

जन्‍म ति‍थि 19 जनवरी 1965

समय 11 बज कर 55 मिनट सुबह

स्‍थान दिल्‍ली केंट दिल्‍ली भारत

नमस्‍कार

प्रश्‍न मैं पिछले दो साल से आथिक शारिरिक तथा मानसिक परेशानियों से गुजर रहा हूंा एक दोस्‍त के साथ काम करता था उसके साथ मिल कर बीपीओ शुरू किया था सब कुछ बनाया जब काम चलने लगा तो दोस्‍त ने झगडें करने शुरू कर दियें तथा ऐसी परिस्थियां बना दी की में कोई काम नहीं कर पाता था तथा मुझें मानसिक रूप से परेशान हो कर काम छोडना पडा उसके बाद अपना काम शुरू करने का प्रयास किया उसमें भी सफलता नहीं मिल रही हैा आथ्रिक रूप से कंगाल हो गया हूंा परिवार में भी पिता से मनमुटाव चल रहा हैा पुजा पाठ काफी करता हूं लेकिन उस का कोई लाभ नजर नहीं आताा मेरे दिन कब सुघरेगे और क्‍या यह पिर्त दोष के कारण हो रहा हैंा अगर कोई उपाय हो तो अवश्‍य बताएं ा जीवन से हताश हो चुका हूं कोई रास्‍ता नजर नहीं आताा

मनोज कुमार झा

Question by manojjhamanojjha, 18 Oct 2010 05:59

name:ramsurajyadav
dob: 14/09/1981
time:2.00pm
place:pratapgadh (u.p.)
education:b.com.

guru ji pranam

kya me apni zingi me kabhi apni khud ki kamai se aapna ghar or jameen bana paaunga ya nahi,me abhi accountant ki service karta hu,or meri rashi kya hogi q ki mera naam rashi se nahi hai kya meri do rashi hai karak or lion pls reply de

by ramsurajyadav (guest), 15 Oct 2010 11:01

name:rahul jaiswal
dob:22/03/1993
time:2:10 am
place:jaipur
carrier: mein abhi BCA kar raha hu mein age computer line me jana chatahu please aap mujhe batye ki me software enngineer banuga ya koi vayavsay karunga?

by RAhul Jaiswal (guest), 05 Oct 2010 10:43

RESPECTED SIR,
PLEASE SOLVE MY PROBLEM

name - praddep kumar vishwakarma
date of birth - 09 march 1978
time : 6:40 am
place- giridih pin - 815301
state - jharkhand
india
education - M.Sc I.T

job - in HDFC STANDARD LIFE INSURANCE AS A SALES DEVELOPMENT MANAGER

I AM suffering from tension last one year, i m in love but she ignore me. how and when it become favourable, when and where i get married, how will be my career, WOUL I BECOME AN OFFICER IN GOVERNMENT SECTOR. WHICH TYPE OF BUSINESS IS SUITABLE FOR ME.

by PRADEEP (guest), 26 Sep 2010 16:31
page 1123...next »
Unless otherwise stated, the content of this page is licensed under Creative Commons Attribution-ShareAlike 3.0 License